Posts

Showing posts from November, 2011

Site Map

जन्मदिन (Hindi Love Stories)

Image
२६ सितम्बर 2011 कोई विशेष दिन नहीं था |सब कुछ सामान्य ही था | सूर्य सदैव की तरह पूरब में ही उगा था | हवा की रफ़्तार भी शांत  थी | दूधवाला दूध पहुंचा रहा था | अखबारवाला घरों में अखबार फेकता जाता था | बच्चे स्कूल के लिए तैयार हो रहे थे उनके माता पिता ऑफिस के लिए| कुल मिलाकर सभी जीवन की नीरसता में व्यस्त थे सिवाए एक के दिव्या | उसने रात करवटों में काटी थी यह सोचते हुवे कि कल वो क्या क्या करेगी | आज का दिन उसके लिए खास था |आज मेरा जन्मदिन जो था | सभी लोग अपना जन्मदिन बड़े धूम-धाम से मानते हैं | केक काटा जाता है | मिठाइयाँ बांटी जाती है | दावत उडाये जाते है | बड़ी मौज-मस्ती होती है | मैं जन्मदिन मनाना आत्मप्रशंषा जैसा समझता हूँ | मुझे नहीं लगता कि पैदा होकर मैंने कोई महान काम कर दिया है जिसके लिए इतना शोर मचे | मैं अपना जन्मदिन उस दिन मनाऊंगा जब मैं जिंदगी में ऐसा मुकाम हासिल कर लूँगा जिसपर मुझे गर्व हो | जब भी कोई मुझसे मेरे जन्मदिन के बारे में पूछता भ्रमित करने के लिए कोई भी दिन बता देता | यह सभी जानते है कि लड़कियां कितनी हठी होतीं हैं | हमारे शास्त्र भी यही कहते है कि स्त्रियों और बच्चो…

तुम अगर मुझको ना चाहो तो कोई बात नहीं

This is a song from a hindi movie  .I liked it very much .

तुम अगर मुझको ना चाहो तो कोई बात नहीं
तुम किसी और को चाहोगी तो मुस्किल होगी |
अब अगर मेल नहीं है तो जुदाई भी नहीं ,
बात अगर तोडी नहीं तुमने तो बनाई भी नहीं ,
ये सहारा बहुत है मेरे जीने के लिए ,
तुम अगर मेरी नहीं तो परे भी नहीं ,
तुम मेरे दिल को न सराहोगी तो कोई बात नहीं ,
तुम गैर के दिल को सराहोगी तो मुस्किल होगी ,
तुम किसी और को चाहोगी तो मुस्किल होगी |
तुम हसीं हो तुम्हे प्यार हीं सब करते होंगे ,
मैं जो मरता हूँ तो क्या और भी मरते होंगे ,
सबकी आँखों में इसी शौक का तूफान होगा ,
सबके सिने में यही दर्द उभरते होंगे ,
मेरे गम में ना कराहों तो कोई बात नहीं ,
किसी और के गम में कराहोगी तो मुस्किल होगी ,
तुम किसी और को चाहोगी तो मुस्किल होगी |
फूल की तरह हंसों, सबकी निगाहों में रहो,
अपनी मासूम जवानी की पनाहों में रहो,
पर मुझको वो दिन ना दिखाना तुझे अपनी हीं कसम,
मैं तरसता रहूँ ,तुम गैर की बांहों में रहो ,
तुम अगर मुझसे ना निबाहोगी तो कोई बात नहीं ,
किसी दुश्मन से निबाहोगी तो मुस्किल होगी ,
तुम किसी और को चाहोगी तो मुस्किल होगी |